Thursday, December 1, 2022

Contact Us For Advertisement please call at :
+91-97796-00900

बिजली संकट ने पंजाब में मचाई हाहाकार, निर्विघ्न बिजली देने में फेल हुई आप सरकार

बिजली संकट ने पंजाब में मचाई हाहाकार, निर्विघ्न बिजली देने में फेल हुई आप सरकार
— सिद्धू ने टविट् कर किया आप को ट्रोल, एक मौका आप को, ना बिजली दिन को ना बिजली रात को

फकीरचंद भगत, पठानकोट:
आम आदमी पार्टी ने 24 घंटे निर्विघ्न बिजली देने का वादा करके पंजाब में सता तो हासिल कर ली है लेकिन, अब बिजली संकट से पंजाब में हाहाकार मच गई है। आप सरकार द्वारा लोगों को 600 यूनिट निशुल्क बिजली देने की घोषणा के बाद बिजली संकट इस कदर बढ़ गया है कि अब मौजूदा हालातों को देखते हुए लगता है जैसे लोग 600 तो दूर 400 यूनिट बिजली भी नहीं उपयोग कर पाएंगे। इन दिनों में पारा 45° डिग्री के लगभग पहुंच चुका है जबकि इस भीषण गर्मी में कटों का दौर जोरों पर है। कई ग्रामीण क्षेत्रों में लग रहे लंबे-लंबे बिजली कटों के कारण पेयजल जैसी समस्याएं आम देखने को मिल रही है। दिन के समय तो लोग वृक्षों के छाए नीचे बैठकर समय गुजार लेते हैं लेकिन, गर्मी एवं बिजली कट के कारण रात के समय छोटे बच्चे आम बिलखते नजर आ रहे हैं। गर्मी में बेहाल लोगों ने भी सरकार पर अब निशाने साधने शुरू कर दिए हैं। लोगों का कहना है कि आप सरकार अपने पहले ही बिजली गारंटी घोषणा में फेल साबित हुई है। लोगों ने कहा कि नहीं अभी तक राज्य सरकार द्वारा रिक्त पदों की भर्तियां को निकाला गया है। उनका कहना है कि आप सरकार भी अन्य पार्टियों की तर्ज पर काम कर रही है। वहीं पूर्व सांसद नवजोत सिंह सिद्धू ने ट्वीट करके आप सरकार पर निशाना सादते हुए कहा है कि एक मौका आप को, न बिजली दिन को न बिजली रात को।
उधर, हलका सुजानपुर से कांग्रेसी विधायक नरेश पुरी ने आम आदमी पार्टी को झूठी पार्टी करार दिया है। उन्होंने कहा कि पार्टी पहले ही घोषणा से मुकर चुकी है जिसका सारा सच प्रदेश की जनता के बीच आ चुका है। नरेश पुरी ने कहा कि पदों को भरने की घोषणा की वह किए भी एक माह के करीब संपर्क में हो चुका है लेकिन, अब तक सरकार द्वारा भर्तियों संबंधी सूचना को जनहित में जारी नहीं किया गया है। ऐसे में साफ है कि लोगों को बेवकूफ बनाकर आप सरकार अपना उल्लू सीधा कर रही है।

पहली गरंटी योजना में फेल हुई पंजाब की मान सरकार-
चुनावों से पूर्व आम आदमी पार्टी द्वारा की गई घोषणा के मुताबिक 24 घंटे निर्विघ्न बिजली देने की गरंटी में पंजाब की भगवंत मान सरकार फेल साबित हुई है। ग्रामीण क्षेत्रों में लग रहे लंबे-लंबे बिजली कटों के कारण 24 घंटे की बजाय मात्र 8 से 10 घंटे ही लोगों को बिजली उपलब्ध हो पा रही है। 600 यूनिट बिजली का उपयोग लोग तभी कर पाएंगे अगर लोगों को बिजली उपलब्ध होगी।

कोयले की कमी के कारण बंद हो रहे थर्मल प्लांट के कारण प्रभावित हो रही बिजली-
सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक कोयले की कमी के कारण कई थर्मल प्लांट बंद हो चुके हैं। कोयले की आपूर्ति के कारण बिजली प्रभावित हो रही है, जिससे आने वाले दिनों में ओर बिजली संकट बढ़ने की संभावना है। विशेषज्ञों के मुताबिक थर्मल प्लांटों में 7 से 8 दिनों का कोयला एडवांस में रखा जाता है जबकि इन दिनों कोयला थर्मल प्लांटों पर कम ही बचा हुआ है।

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest Articles

%d bloggers like this: