Thursday, October 6, 2022

Contact Us For Advertisement please call at :
+91-97796-00900

श्री माता वैष्णो देवी वंदे भारत एक्सप्रेस सहित नौ मई से नहीं चलेगी आठ ट्रेंने

श्री माता वैष्णो देवी वंदे भारत एक्सप्रेस सहित नौ मई से नहीं चलेगी आठ ट्रेंने
कोरोना के बढते मरीजों की संख्या को देखते हुए रेलवे लिया यह फैसला रेलवे लाईन पर चलती ट्रेंन।

पठानकोट(ब्यूरों)

कोरोना वायरस के संक्रमण से कारण पैदा हालत का असर अब रेल सेवाओं पर भी पड़ने लगा है। रेलवे ने पंजाब एवं हरियाणा से चलने वाली शताब्दी व जनशताब्दी एक्स प्रेस समेत 18 ट्रेनों को अगले आदेश तक रद कर दिया है। जिसके तहत फिरोजपुर रेल मंडल की ओर से भी जम्मू तवी से चल कर दिल्ली की ओर जाने वाले वंदे भारत एक्सप्रेस सहित लगभग आठ ट्रेंने को नौ मई से रद्द करने के आदेश जारी किए गए है। रेलवे की ओर से ट्रेंन नंबर- 02265 दुरंतो स्पेशल दिल्ली सराय रोहिल्ला-जम्मू तवी 9 मई से नहीं चलेंगी। जबकि इसके अलावा 02266 दुरंतो स्पेशल जम्मू तवी- दिल्ली सराय-9 मई से रद्द रहेगी। इसी प्रकार ट्रेंन नंबर- 02445 नई दिल्ली-कटरा स्पेशल 9 मई। जबकि ट्रेन नंबर-02446 कटरा-नई दिल्ली भी नौ मई को रद्द रहेगी। इसी प्रकार श्री माता वैष्णो देवी वंदे भारत एक्सप्रेस ट्रेंन भी नौ मई से रद्द रहेगी। इसके साथ ही नई दिल्ली-कटड़ा उत्तर संपर्क क्रांति एक्सप्रेस नौ मई से और नई दिल्ली- कटड़ा श्री शक्ति एक्सप्रेस दस मई से नहीं चलेंगी।
रेलवे अधिकारियों का कहना है कि अब फिर से वह ही दौर लौट आया है। लॉकडाउन के कारण लोग अपने घरों से नहीं निकल रहे हैं, इस वजह से रेलवे को नुकसान भी हो रहा है। नुकसान को देखते हुए रेलवे की ओर से अपनी कई सेवाओं को बंद कर दिया गया है। रेलवे की ओर से कहा गया है जब कुछ माह में हालात सामान्य हो जाएंगे तो इन ट्रेनों को फिर से पटरी पर चलाया जाएगा। इनमें लोकल, स्पेशल जैसी कई ट्रेनें शामिल हैं। जबकि इससे हले रेलवे की ओर से मेट्रो शहरों पंजाब व महाराष्ट्र की ओर जाने वाली ट्रेनों को भी रद्द कर दिया गया है। रेलवे के अनुसार अधिकांश शताब्दी एक्सप्रेस में 40 फीसद के करीब बुकिंग हो रही है। महाराष्ट्र व पंजाब की ओर जाने वाली कई अन्य ट्रेनों का भी यही हाल है। इन चीजों को देखते हुए उत्तर रेलवे ने 18 ट्रेनों को अगले आदेश तक निरस्त कर दिया है। इनमें वंदे भारत, शताब्दी, राजधानी, दुरंतों सहित कई अन्य ट्रेनें शामिल हैं। रेल अधिकारियों का कहना है कि कोरोना संक्रमण की वजह से कई लोग यात्रा करने से परहेज कर रहे हैं।
उन्होंने बताया कि अब रेलवे स्टेशन पर आने वाले यात्रियों को पहले आरटीपीसीआर की निगेटिव रिपोर्ट दिखानी होगी। यह रिपोर्ट गंतव्य स्थान से 72 घंटे पहुंचने से पहले की होनी जरूरी है। यात्रा के दौरान व स्टेशन पर निर्धारित तरीके से मास्क पहने रहना अनिवार्य है। इसके साथ ही शारीरिक दूरी का भी पालन करना होगा। यदि इसके अलावा अगर संदिग्ध यात्री मिलता है तो उसकी स्वास्थ्य जांच की जाएगी।

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest Articles

%d bloggers like this: