Sunday, October 2, 2022

Contact Us For Advertisement please call at :
+91-97796-00900

शादी का कार्ड व मिट्ठाई का डिब्बा लेकर दिया वारदात को अंजाम, 4 आरोपी गिरफ्तार एक फरार

जालंधर( ब्यूरो ):  कमिश्नरेट पुलिस थाना नंबर 7 की पुलिस ने लूटपाट की वारदातों को अंजाम देने वाले 4 स्नैचरोें को गिरफ्तार किया। जबकि उनका एक साथी अभी फरार है। पुलिस ने इनके कब्जे से वारदात में इस्तेमाल किए एक मोटरसाइकिल, एक एक्टिवा बरामद किए है। आरोपियों की पहचान राजन उर्फ राजू पुत्र सुरजीत कुमार, हरनूर सिंह उर्फ नूर पुत्र अवतार सिहं दोनों निवासी कांशी नगर कोट सदीक, दीप सिहं उर्फ दीपू पुत्र दलबीर सिहं, लवप्रीत सिंह पुत्र करनैल सिंह दोनों निवासी गांव हमीरपुर के तौर पर बताई गई है। जबकि फरार साथी दीपक उर्फ दीपू पुत्र मदन लाल निवासी कोट सदीक के तौर पर हुई है। ए.डीसीपी अश्वनी कुमार, एसीपी हरिंदर सिंह गिल, मॉडल टाऊन के दिशा निर्देशों के चलाई गई मुहिम के तहत थाना प्रभारी गगनदीप सिंह शेखों ने बताया कि एएसआई सोहन लाल टीम सहित मिट्ठापुर चौक मौजूद थे। तभी थाना मुंशी को पुलिस कंट्रोल रुम से संदेश आया कि कुक्की ढाब के घर में 3 नौजवान ने वारदात को अंजाम दिया है। मौके पर एएसआई सोहन लाल को शारदा रानी पत्नी महिंदर पाल ने शिकायत दर्ज करवाई कि वह अपने घर में सो रही थी कि अचानक एक सरदार लड़का घर का दरवाजा खोल कर अंदर आ गया। जिसके हाथ में मिट्ठाई का डब्बा था और एक शादी का कार्ड रखा हुआ था। उसने कहा कि मिट्ठाई का डिब्बा बैड पर रख दो। 15 दिन पहले घर आया था उसके साथ दो सरदार लड़के और आज आ गए। उन्होंने कहा कि पाजी को बुलाओ, उसने पोते को कहा अपने पिता अनिल उर्फ रिंकु को बुला कर लाओ। इन तीनों ने उसे एक कमरे में बैठा लिया और उसके बाद दो सोने की वालियां, एक सोने का कोका, एक सोने की अंगुठी, मिट्ठाई देने के बहाने इनसे छीन कर ले गए। मामला दर्ज करके जांच शुरु की गई है, जिसमें पीपीआर मॉल नाकाबंदी के दौरान सफेद रंग की एक्टिवा, एक मोटरसाइकिल सीटी100 पर सवार दो नौजवान आते दिखाई दिए। पूछताछ में उन्होंने अपना नाम राजन, हरनूर, दीप सिहं, लवप्रीत बताया। पूछताछ की गई तो चारों शक्की लगे। इसी दौरान आरोपियों ने बताया कि उसके ताया के लड़के दीप सिंह उर्फ दीपू का उन्हें फोन आया कि शहर में आज वारदात को अंजाम देना है आ जाओ। सूचना मिलते ही वह कोट सदीक नहर पर पहुंच गए। राजन, हरनूर और दीपक सफेद रंग की एक्टिवा पर सवार था। सभी इक्ट्ठे हुए चाय पी, दीपक उर्फ दीपू ने वारदात की प्लैनिंग की और उसने तीनों के सिर पर पगड़ी बांधी और मिट्ठाई का डिब्बा लेकर वारदात को अंजाम दे दिया। चारोंम आरोपियों  को गिरफ्तार कर लिया है। दीपक उर्फ दीपू की गिरफ्तारी जल्द की जाएगी।

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest Articles

%d bloggers like this: