Wednesday, October 5, 2022

Contact Us For Advertisement please call at :
+91-97796-00900

ए एंड एम ग्रुप आफ इंस्टिट्यूट्स पठानकोट शिक्षा के क्षेत्र में अग्रणी

— अच्छी शिक्षा एवं एआईसीटी एप्रूव्ड होने के चलते बच्चों का प्रति वर्ष बढ़ रहा कॉलेज के प्रति रुझान

साइंस के इस एडवांस युग में टेक्नोलॉजी एवं प्रोफेशनलिज्म एक जिंदगी का अहम हिस्सा बन गया है। टेक्नोलॉजी के एडवांस होने के चलते जहां अनुभवी एवं योग्यता की जरूरत बढ़ती जा रही है वहीं अब ऐसे शिक्षा के क्षेत्र में बच्चे पिछड़ते चले जा रहे हैं। ऐसे में पठानकोट जिले के प्रतिष्ठित कॉलेजों में से एक ए एंड एम ग्रुप आफ इंस्टिट्यूट्स इन दिनों बच्चों की पहली पसंद बनता जा रहा है। यह इंस्टीट्यूट बच्चों को लगभग हर क्षेत्र में माहिर करके उनको अपने-अपने क्षेत्र में भविष्य संवारने का मौका दे रहा है। वाईस चेयरमैन अक्षय महाजन, कंप्यूटर विभाग के डायरेक्टर डॉ. रेणुका महाजन व मैनेजमेंट विभाग के डायरेक्टर डॉ. चारु शर्मा ने जानकारी देते हुए बताया कि वर्ष 2008 में खुले इस कॉलेज को अब 13 वर्ष गुजर चुके हैं ऐसे में यहां से शिक्षा ग्रहण कर अब तक सैकड़ो की तादाद में बच्चे अपनी मंजिलों को छू चुके हैं। बच्चों द्वारा तय किए लक्ष्य के मुताबिक कॉलेज ने लगभग सभी प्रकार के कोर्सेज को उपलब्ध करवाया गया है । यही नहीं सबसे अहम बात यह है कि कॉलेज में पढ़ाने वाले शिक्षक बेहद अनुभवी, योग्य एवं उच्च शिक्षित हैं। वह बच्चों को थ्योरी कम और उन्हें प्रैक्टिकल पर ज्यादा जोर देते हैं । ताकि हर सब्जेक्ट के बेसिक कंसेप्ट एवं उसके पीछे लॉजिक को समझाया जा सके। बच्चों को पढ़ने के लिए जिस प्रकार का पर्यावरण चाहिए ठीक वैसा ही माहौल कॉलेज में बच्चों को प्राप्त हो रहा है। सबसे अहम बात यह भी है कि कॉलेज के अध्यापकों द्वारा बच्चों के हर कंसेप्ट को गहनता से क्लियर करवाया जाता है और जब तक बच्चे पूरी तरह से संतुष्ट नहीं हो जाते तब तक उन्हें उसी कंसेप्ट के बारे में रिपीट करवाया जाता है। कॉलेज में बच्चों को पढ़ाई के साथ साथ समय समय पर इंडस्ट्रियल विजिट भी करवाई जाती है ताकि कॉलेज में शिक्षा ग्रहण कर रहे बच्चे इंडस्ट्री के बारे में पूर्ण जानकारी हासिल कर सके। कॉलेज से मिली जानकारी के अनुसार उक्त कॉलेज में से पढ़कर निकलने वाले लगभग सभी बच्चों के अंक 70% से अधिक ही होते हैं। कॉलेज में पढ़ने वाले बच्चों की भी यही खासियत है कि वह ग्रुप बनाकर हर कंसेप्ट को क्लियर करते हैं, कंसेप्ट को क्लियर करने में अध्यापकों का भी पूरा साथ मिलता है।

इन कोर्सेज को प्रोवाइड कर रहा है ए एंड एम ग्रुप
कंप्यूटर विभाग के डायरेक्टर रेणुका महाजन व मैनेजमेंट विभाग के डायरेक्टर डॉ. चारु शर्मा ने बताया कि क्षेत्र के बच्चों के लिए एमबीए, एमसीए, एमएससी (आईटी), एमकॉम, बीसीए, बीबीए, बीकॉम (होनर्स), बीएससी(आईटी), बीएससी(एग्रीकल्चर), बीएससी(होटल मैनेजमेंट), बीएससी(फेशन डिजाइनिंग), बीएससी(मेडिकल लैब तकनीशियन) आदि शामिल है।

पिछड़े वर्ग को ऊंचा उठाने के लिए दी जाती है करोड़ो की स्कॉलरशिप
अनुसूचित जाति के बच्चों के लिए यह कॉलेज किसी वरदान से कम नहीं है क्योंकि कॉलेज द्वारा प्रत्येक वर्ष करोड़ो रूपये की स्कॉलरशिप बच्चों को शिक्षा के क्षेत्र में मजबूत बनाने के लिए दी जाती है। सबसे अहम बात यह है कि यह क्षेत्र में एकमात्र ऐसा कॉलेज है, जिसके द्वारा बच्चों को इतनी स्कॉलरशिप दी जाती है।

क्षेत्र की बेटियों के लिए 50% फीस माफ़ :
वाईस चेयरमैन अक्षय महाजन ने बताया कि देश के प्रधानमंत्री नरिंदर मोदी द्वारा शुरू की गई “बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ” अभियान के अंतर्गत क्षेत्र की सभी बेटियों को 50% फीस में छूट दी जा रही है। उन्होंने कहा कि कॉलेज मैनेजमेंट द्वारा बेटियों की शिक्षा का स्तर उच्चा उठाने के लिए बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ अभियान के अंतर्गत सभी कोर्सों में 50% फीस माफ़ किया गया है ताकि हमारी बेटियों ज्यादा से ज्यादा उच्च शिक्षा हासिल कर समाज व् देश में अपना योगदान करें।

जॉब प्लेसमेंट के लिए आती है बाहर से कंपनियां
कॉलेज की सबसे अच्छी बात यह है कि बच्चों के लिए कॉलेज में हर वर्ष जॉब प्लेसमेंट ड्राइव आयोजित किए जाते हैं जिसके चलते बाहर से प्रतिष्ठित कंपनियों के अधिकारी अपनी कंपनियों में विभिन्न पदों पर फ्रेशर छात्रों की नियुक्तियां करते हैं। ऐसे में बच्चों को अपने क्षेत्र में अनुभव लेने का मौका तो मिल ही जाता है। साथ ही अच्छा पैकेज भी मिल जाता है, जिसके चलते बच्चे अपना भविष्य आसानी से सवार रहे हैं।

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest Articles

%d bloggers like this: